career4education.com

Advertisement

  • 4 करोड़ की छात्रवृत्ति के साथ विदेश में कर सकते हैं इंजीनियरिंग की पढ़ाई

4 करोड़ की छात्रवृत्ति के साथ विदेश में कर सकते हैं इंजीनियरिंग की पढ़ाई

By: C4E Team Mon, 24 Feb 2020 3:06 PM

4 करोड़ की छात्रवृत्ति के साथ विदेश में कर सकते हैं इंजीनियरिंग की पढ़ाई

हर कोई चाहता है कि उसे शिक्षा के अच्छे अवसर मिले ताकि वह अच्छी शिक्षा पाकर अपने करियर को नै उड़ान दे सकें। इसके लिए छात्र विदेश में भी पढ़ाई करना पसंद करते है। अगर आप भी विदेश में इंजीनियरिंग की पढ़ाई करना चाहते हैं तो आपकी मदद करेगा डबलिन का ट्रिनिटी कॉलेज जो कि भारतीय छात्रों के लिए 5,00,000 यूरो (लगभग चार करोड़ रुपये) की छात्रवृत्ति लेकर आया हैं। जी हां, इस संस्थान द्वारा इंजीनियरिंग, एन्वायरमेंट (पर्यावरण) और (एमर्जिंग टेक्नोलोजी) जिनको E3 नाम दिया गया है के क्षेत्र में स्नातक और परास्नातक पाठ्यक्रमों के लिए छात्रवृत्ति दी जा रही हैं।

बता दें कि ये छात्रवृत्ति इंजीनियरिंग, नेचुरल साइंस, कंप्यूटर साइंस और स्टेटेस्टिक्स (सांख्यिकी) आदि पाठ्यक्रमों में आवेदन कर चुके छात्रों के लिए भी लाभदायक होगी। ट्रिनिटी कॉलेज की ई3 बिजनेस मैनेजर एस लूसी ने कहा कि 'भारतीय छात्रों ने हमारे यहां शिक्षा और छात्र अनुभव के लिए काफी हद तक योगदान किया है। मैं उम्मीद करती हूं कि ये छात्रवृत्ति भारतीय छात्रों के लिए सहायक साबित होगी और उन्हें यहां पर आकर पढ़ने के लिए आकर्षित भी करेगी।'

एस लूसी ने कहा कि सतत तकनीकी विकास की चुनौती को मान्यता देने के लिए भी यह कदम उठाया गया है। तीनों स्कूलों के विस्तार को इंजीनियरिंग, ऊर्जा और पर्यावरण के क्षेत्र में मानवता की महत्ता को बढ़ोतरी देने के लिए क्रियान्वित किया जा रहा है। ई3 न केवल भारत के लिए बल्कि हमारे लिए भी इंजीनियरिंग के क्षेत्र में शिक्षा और शोध कार्यों को बढ़ाने के लिए महत्वपूर्ण है।

यह भी पढ़े :

# सिर्फ लड़कियों के लिए निकली यह स्कॉलरशिप, पा सकती हैं 18000 रूपये की मदद

# 12वीं पास स्टूडेंट्स उठाए इस स्कॉलरशिप का फायदा, अभी तक मिल चुकी 1.19 करोड़ की मदद

Advertisement