career4education.com

Advertisement

  • यहां बच्चों के पढ़ने से लेकर खेलने तक की दिनचर्या तय कर रही सरकार, बना कर्फ्यू जैसा माहौल

यहां बच्चों के पढ़ने से लेकर खेलने तक की दिनचर्या तय कर रही सरकार, बना कर्फ्यू जैसा माहौल

By: C4E Team Fri, 08 Nov 2019 4:39 PM

यहां बच्चों के पढ़ने से लेकर खेलने तक की दिनचर्या तय कर रही सरकार, बना कर्फ्यू जैसा माहौल

हर बच्चे के माँ-बाप चाहते हैं कि उनका बच्चा जीवन में सफलता के शिखर को पाए और इसके लिए पेरेंट्स द्वारा बच्चों को समझते हुए उनकी दिनचर्या तय की जाती हैं ताकि अच्छे परिणाम मिल सकें। अब जरा सोचिए कि आपके बच्चों की दिनचर्या कोई ऐसा तय करें जो आपके बच्चे को जानता तक नहीं तो इसके क्या परिणाम होंगे। ऐसा ही कुछ देखने को मिल रहा हैं चीन में जहां पर सरकार ने बच्चों के होमवर्क करने, गेम खेलने, पैसे खर्च करने से लेकर सोने तक के समय पर पाबंदी लगा दी है। अभिभावक इसे कर्फ्यू का नाम दे रहे हैं। पेरेंट्स द्वारा इन इन दिशा-निर्देशों को वापस लेने की भी मांग की जा रही हैं। आइये जानते हैं आखिर क्या हैं सरकार द्वारा जारी ये दिशा-निर्देश।

शिक्षा से जुड़े निर्देश
हर माता-पिता को अपने बच्चों को रात 10 से पहले सुलाना है, फिर चाहे उनका होमवर्क पूरा हुआ हो या नहीं। प्राथमिक स्कूलों में पढ़ रहे बच्चों के लिए बिस्तर पर जाने का समय रात 9 बजे तय किया गया है। सप्ताहांत में अभिभावक अपने बच्चों के लिए ट्यूटर नहीं रख सकते। शिक्षा विभाग ने अभिभावकों को सुझाव दिया है कि वे छुट्टियों व सप्ताहांत में बच्चों से ज्यादा पढ़ाई न कराएं।

education news,education news in hindi,weird news,china news,restriction on gaming,restriction on homework timing,curfew on children ,एजुकेशन न्यूज़, एजुकेशन न्यूज़ हिंदी में, अनोखी खबर, चीन की खबर, गेमिंग पर पाबन्दी, होमवर्क का फिक्स टाइम, बच्चों पर कर्फ्यू

विडियो गेम से जुड़े निर्देश
18 साल से कम उम्र के बच्चे रात 10 से सुबह 8 बजे के बीच ऑनलाइन गेम नहीं खेल सकते। बच्चों को सप्ताह के दिनों में कुल मिलाकर 90 मिनट और सप्ताहांत व छुट्टियों में 3 घंटे तक ही गेम खेलने की अनुमति होगी। वीडियो गेम की लत पर लगाम लगाने के लिए चीन ने यह कदम उठाया है। गौरतलब है कि चीन दुनिया के सबसे बड़े गेमिंग बाजारों में से एक है।

ऑनलाइन गेम्स पर बच्चों द्वारा किए जाने वाले खर्चों से जुड़े निर्देश
चीन की सरकार ने ऑनलाइन गेम्स पर बच्चों द्वारा किए जाने वाले खर्चों पर भी पाबंदी लगी दी है। इसके अनुसार, 8 से 16 साल की उम्र के बच्चे हर महीने अधिकतम 200 युआन (करीब 2000 रुपये) खर्च कर सकते हैं। वहीं, 16 से 18 साल के लोग गेमिंग खातों पर 400 युआन (करीब 4000 रुपये) तक खर्च कर सकते हैं।

इतने सख्त प्रतिबंध लगाए जाने की घोषणा पहली बार हुई है। हालांकि इससे पहले गेमिंग को लेकर 2018 में भी चीन ने कदम उठाए थे। तब नए वीडियो गेम की अनुमति पर भी रोक लगाई थी। लेकिन महज 9 महीने बाद ही गिरते बाजार के कारण यह पाबंदी खत्म हो गई थी।

यह भी पढ़े :

# इन प्राइवेट स्कूलों को लौटानी होगी बढ़ी हुई फीस, वो भी नौ फीसदी ब्याज के साथ

# इन छात्रों को सरकार देने जा रही मुफ्त हवाई यात्रा, जानें पूरी योजना

# अब IIT से बनेंगे डॉक्टर, इंजीनियरिंग के साथ होगी मेडिकल की भी पढ़ाई

# स्कूलों में लागू होने जा रहा है नया नियम, बच्चों को बिताना होगा धूप में समय

Advertisement