career4education.com

Advertisement

  • केजरीवाल सरकार पूरा करेगी पूर्व राष्ट्रपति अब्दुल कलाम का सपना, स्कूलों में शुरू की जाएगी वोकेशनल विषयों की पढ़ाई

केजरीवाल सरकार पूरा करेगी पूर्व राष्ट्रपति अब्दुल कलाम का सपना, स्कूलों में शुरू की जाएगी वोकेशनल विषयों की पढ़ाई

By: C4E Team Mon, 21 Oct 2019 12:50 PM

केजरीवाल सरकार पूरा करेगी पूर्व राष्ट्रपति अब्दुल कलाम का सपना, स्कूलों में शुरू की जाएगी वोकेशनल विषयों की पढ़ाई

दिल्ली की केजरीवाल सरकार द्वारा शिक्षा क्षेत्र को प्रगितिशील बनाने के लिए कई महत्वपूर्ण फैसले लिए गए हैं। इसी कड़ी में अब केजरीवाल सरकार वोकेशनल सब्जेक्ट्स की पैरवी करती हुई नजर आ रही हैं जो की पूर्व राष्ट्रपति अब्दुल कलाम का भी सपना रहा हैं। इसके लिए सरकार द्वारा केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (CBSE) को बदलाव की अपील की जा रही हैं। इसकी जानकारी दिल्ली के उप मुख्यमंत्री व शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया द्वारा दिल्ली के त्यागराज स्टेडियम में आयोजित एक कार्यक्रम के दौरान कहीं गई। यहां दिल्ली के सरकारी स्कूलों के करीब 5 हजार छात्रों को इंटर्नशिप ट्रेनिंग प्रोग्राम पूरा करने के उपलक्ष्य में कार्यक्रम आयोजित किया गया था।

मनीष सिसोदिया (Manish SIsodia) ने कहा कि 'सभी स्कूलों के पाठ्यक्रम में वोकेशनल सब्जेक्ट्स जरूर होने चाहिए। साथ ही इन विषयों को मुख्य व नियमित विषयों के रूप में ही संचालित किया जाना चाहिए। हमारा उद्देश्य है कि हम वोकेशनल विषयों (Vocational Subject) को भी मुख्य विषय बनाएं, न कि उन्हें अतिरिक्त विषय के रूप में रखें। इस बारे में हम जल्द ही सीबीएसई से बात करेंगे और उनके सामने प्रस्ताव रखेंगे।'

cbse,cbse news,delhi education minister manish sisodia,changes in cbse schools,vocational subjects,dream of former president apj abdul kalam,delhi government ,सीबीएसई सीबीएसई न्यूज़, केजरीवाल सरकार, पूर्व राष्ट्रपति अब्दुल कलाम का सपना, वोकेशनल सब्जेक्ट्स, सीबीएसई में बदलाव, उप मुख्यमंत्री व शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया

मनीष सिसोदिया ने यह भी कहा कि 'अब्दुल कलाम आजाद का सपना था कि स्कूली शिक्षा में छात्रों को वोकेशनल विषयों की भी अच्छी शिक्षा दी जाए। जब हमने उनसे स्कूली शिक्षा पर मार्गदर्शन मांगा था, तभी उन्होंने अपने मन की ये बात साझा की थी। मुझे खुशी है कि हम उनके सपने को पूरा करने की दिशा में बढ़ रहे हैं।'

उन्होंने बताया कि दिल्ली के सरकारी स्कूलों में कई वोकेशनल विषयों की पढ़ाई शुरू की जाएगी। इन विषयों को अतिरिक्त नहीं, बल्कि मुख्य विषय के तौर पर पढ़ाया जाएगा। आगे दिल्ली में शुरू होने वाली स्किल यूनिवर्सिटी में दाखिले के लिए उन विषयों को प्राथमिकता दी जाएगी जिन्होंने स्कूल में वोकेशनल विषयों की पढ़ाई की हो।

यह भी पढ़े :

# CBSE: कक्षा 3 से 12 तक के छात्रों के लिए की गई स्टोरी टेलिंग प्रतियोगिता की शुरुआत, नेशनल लेवल पर मिलेगा मेडल व सर्टिफिकेट

# CBSE: 10वीं और 12वीं बोर्ड परीक्षा में इतने अंक लाना जरूरी, पैटर्न में किया गया बदलाव

# CBSE: जारी हुआ प्री-बोर्ड परीक्षा का शेड्यूल, 16 दिसंबर से होगा आगाज

# ममता बनर्जी ने उठाए केंद्र सरकार पर सवाल, केवल गुजराती में ही क्यों जेईई परीक्षा?

# सीबीएसई बोर्ड की प्रैक्टिकल परीक्षाओं का शेड्यूल हुआ जारी, सख्त निर्देशों के साथ होगी संपन्न

Advertisement