career4education.com

Advertisement

  • प्राइवेट स्कूलों के गौरखधंधो पर पंजाब सरकार ने लगाई लगाम, यूनिफॉर्म और किताबों की बिक्री पर लिया गया यह फैसला

प्राइवेट स्कूलों के गौरखधंधो पर पंजाब सरकार ने लगाई लगाम, यूनिफॉर्म और किताबों की बिक्री पर लिया गया यह फैसला

By: C4E Team Sun, 16 June 2019 2:47 PM

प्राइवेट स्कूलों के गौरखधंधो पर पंजाब सरकार ने लगाई लगाम, यूनिफॉर्म और किताबों की बिक्री पर लिया गया यह फैसला

वर्तमान समय में कई निजी विद्यालयों ने शिक्षा को एक गौरखधंधा बनाकर रख दिया हैं। इसके तहत स्टूडेंट्स के अभिभावकों को स्कूल द्वारा नियत स्थान से ही यूनिफॉर्म और किताबों की खरीदी करनी पड़ती हैं जो कि बहुत ऊँचे दामों की वजह से अभिभावकों की जेब पर बोझ बनते हैं। इस पर लगाम कसते हुए पंजाब सरकार द्वारा महत्वपूर्ण फैसला लिया गया हैं और स्कूल परिसर में किताबों और यूनिफॉर्म की बिक्री पर रोक लगा दी हैं और इससे जुड़े नियम बनाए गए हैं।

राज्य के शिक्षा मंत्री इंदर सिंगला ने शनिवार को यह जानकारी दी। उन्होंने कहा कि सीबीएसई, आईसीएसई और पंजाब स्कूल शिक्षा बोर्ड से संबद्ध सभी निजी स्कूलों को निर्देश जारी किए गए हैं कि वे अभिभावकों से उनकी निर्धारित दुकान या फर्म से स्कूल यूनिफॉर्म और किताबें खरीदने के लिए न कहें। दिशा-निर्देशों में यह भी कहा गया है कि स्कूल में एक बार पेश की जाने वाली यूनिफॉर्म को कम से कम तीन साल तक चलाया जाना चाहिए और उस अवधि के दौरान इसके रंग या डिजाइन में कोई बदलाव नहीं किया जाना चाहिए।

इसके अलावा, स्कूल प्राधिकारियों के लिए बोर्ड पाठ्यक्रम के आधार पर अनुमोदित पुस्तकों का उपयोग करना और स्कूल की वेबसाइट पर उन पुस्तकों की सूची अपलोड करना अनिवार्य कर दिया गया है। इस फैसले के बाद से यह विद्यार्थियों और अभिभावकों के विवेक पर निर्भर करता है कि वे किताबें कहां से खरीदें।

Advertisement