career4education.com

Advertisement

  • एग्जाम स्ट्रेस दूर करने के लिए यूनिवर्सिटी कर रही कब्र का इस्तेमाल, स्टूडेंट्स बिता रहे इसमें समय

एग्जाम स्ट्रेस दूर करने के लिए यूनिवर्सिटी कर रही कब्र का इस्तेमाल, स्टूडेंट्स बिता रहे इसमें समय

By: C4E Team Fri, 15 Nov 2019 12:31 PM

एग्जाम स्ट्रेस दूर करने के लिए यूनिवर्सिटी कर रही कब्र का इस्तेमाल, स्टूडेंट्स बिता रहे इसमें समय

हर संस्थान चाहता हैं कि उनके स्टूडेंट्स परीक्षा में अच्छा प्रदर्शन करें और इसके लिए कड़ी मेहनत करें। लेकिन रिजल्ट की टेंशन कब स्ट्रेस में बदल जाती हैं कहा नहीं जा सकता हैं। ऐसे में नीदरलैंड की एक यूनिवर्सिटी अजीबो-गरीब आइडिया का इस्तेमाल कर रही है जो कि स्टूडेंट्स का एग्जाम स्ट्रेस दूर करेगा।

मिरर के मुताबिक नीदरलैंड के निजमेगन में स्थित रैडबाउड यूनिवर्सिटी स्टूडेंट्स को कब्र में लिटाकर मेडिटेशन करा रही है। यूनिवर्सिटी के मुताबिक इस प्रयोग के बाद स्टूडेंट्स समय की कीमत समझ रहे हैं, साथ ही वे एग्जाम स्ट्रेस को भी दूर कर पा रहे हैं।

स्टूडेंट्स को इस तरीके से काफी फायदा हुआ। यही नहीं इस तरीके से टेंशन दूर भगाने के इच्छुक स्टूडेंट्स को अब लाइन में लगना पड़ रहा है। वेटिंग लिस्‍ट काफी लंबी हो चुकी है। अब स्टूडेंट्स को कब्र में मेडिटेशन के लिए बुकिंग करनी पड़ रही है। कब्र को छात्र 30 मिनट से लेकर 3 घंटे तक बुक कर सकते हैं।

आपको बता दें कि दक्षिण कोरिया में भी इसी से मिलता जुलता एक तरीका इस्तेमाल किया जा रहा है। दक्षिण कोरिया में लोग जीवित रहते हुए कब्र में लेट रहे हैं। यहां ह्योवोम हीलिंग सेंटर ये सेवा दे रहा है और इसका उद्देश्य लोगों को मौत का अनुभव कराना और उन्हें जिंदगी की कीमत समझाना है।

यह भी पढ़े :

# दिल्ली के प्रदूषण पर बच्चे ने लिख डाला अनोखा निबंध, हो रहा सोशल मीडिया पर आग की तरह वायरल

# यहां बच्चों के पढ़ने से लेकर खेलने तक की दिनचर्या तय कर रही सरकार, बना कर्फ्यू जैसा माहौल

Advertisement