career4education.com

Advertisement

  • यहां किया जा रहा बिना परीक्षा दिए ही स्टूडेंट्स को पास, लिया गया फैसला

यहां किया जा रहा बिना परीक्षा दिए ही स्टूडेंट्स को पास, लिया गया फैसला

By: C4E Team Wed, 25 Mar 2020 1:28 PM

यहां किया जा रहा बिना परीक्षा दिए ही स्टूडेंट्स को पास, लिया गया फैसला

कोरोनावायरस के चलते देश के सामने आई इस विपदा से बचने के लिए लॉकडाउन किया जा चुका हैं और कई परीक्षाओं को स्थगित भी किया गया हैं। इस कड़ी में अब गुजरात सरकार द्वारा पहली से लेकर नौवीं तक, और ग्यारहवीं के विद्यार्थीयों को अब बिना परीक्षा दिए ही अगली कक्षा में भेजने का फैसला लिया गया हैं। सरकार ने कोरोना के बढ़ते प्रभाव के बाद यह फैसला लिया है। आपको बता दें कि देश के अन्य राज्यों की तरह ही गुजरात में भी कोरोना वायरस से बचाव के लिए स्कूलों को बंद और परीक्षाओं को स्थगित किया गया है। सरकार पहले से ही सूबे के पांच शहरों में पूरी तरह से लॉक डाउन की घोषणा कर चुकी है।

गुजरात सीईटी की परीक्षाओं को भी स्थगित किया गया है। इसके अलावा, नेशनल टेस्टिंग एजेंसी ने भी जेईई मेन 2020 की परीक्षा को स्थगित किया है। महाराष्ट्र सरकार भी इसी तरह की व्यवस्था कर चुकी है। वहां भी बिना परीक्षा दिए ही पहली से लेकर आठवीं कक्षा तक के विद्यार्थियों को अगली कक्षा में प्रमोट किया जाएगा।

कोरोना महामारी से बचाव के लिए देशभर के कई राज्यों में दसवीं और 12वीं कक्षा की बची हुई परीक्षाओं को भी स्थगित कर दिया गया है। इसके अलावा, प्रतियोगी परीक्षाओं को भी फिलहाल टाल दिया गया है। उत्तराखंड से लेकर यूपी, मध्यप्रदेश, दिल्ली, हरियाणा, पंजाब व त्रिपुरा समेत कई राज्यों में पहले से ही सरकारी और निजी स्कूलों को पूरी तरह से बंद कर दिया गया है। यूजीसी ने भी देश के उच्च शिक्षा संस्थानों से सभी परीक्षाओं को स्थगित करने और शिक्षकों को घर से काम करने का निर्देश जारी किया है। कई कॉलेजों में शिक्षक घर से ही कक्षाएं ले रहे हैं।

यह भी पढ़े :

# दिल्ली यूनिवर्सिटी ने रोकी प्रवेश की रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया, कारण बना कोरोना वायरस

# अब रेडियो से कराई जाएगी पढ़ाई, नहीं होगा विद्यार्थियों का नुकसान

# अब प्राइवेट स्कूल नहीं वसूलेंगे लॉकडाउन की अवधि तक फीस

# अब बिना परीक्षा के पास होंगे आठवीं तक के विद्यार्थी, शिक्षा मंत्री ने दी जानकारी

# सरकार ने पेश की फ्री लर्निंग एप, नहीं होगी विद्यार्थियों की पढ़ाई बाधित

Advertisement