career4education.com

Advertisement

  • कोरोना से लड़ाई में सरकार द्वारा लॉन्च की गई ‘Aarogya Setu’ मोबाइल ऐप

कोरोना से लड़ाई में सरकार द्वारा लॉन्च की गई ‘Aarogya Setu’ मोबाइल ऐप

By: C4E Team Fri, 03 Apr 2020 4:50 PM

कोरोना से लड़ाई में सरकार द्वारा लॉन्च की गई ‘Aarogya Setu’ मोबाइल ऐप

कोरोना वायरस (Corona virus) आज देश-दुनिया के लिए बड़ी परेशानी बन चुका हैं। इससे लड़ने के लिए सरकार द्वारा कई प्रयास लगातार किए जा रहे हैं। देशभर में 14 अप्रैल तक के लिए लॉकडाउन किया गया हैं ताकि संक्रमण को फैलने से रोका जा सकें। इसी कड़ी में अब सरकार द्वारा ‘Aarogya Setu’ मोबाइल ऐप भी लॉन्च की गई हैं जिससे सरकार द्वारा संक्रमित लोगों की लोकेशन को ट्रैक किया जा सकेगा। सरकार का मुख्य उद्देश्य इस ऐप के जरिए यूजर्स की मदद करना है ताकि वे यह जान सकें कि क्या वे कोरोना से संक्रमित मरीजों के संपर्क में आए हैं या नहीं। यूजर्स के स्मार्टफोन के लोकेशन डाटा और ब्लूटूथ के इस्तेमाल से संक्रमण का पता लगाया जाएगा।

सरकार इससे पहले भी ‘कोरोना कवच’ नाम के मोबाइल एप को पेश कर चुकी है। कोरोना ट्रैकर ऐप आरोग्य सेतु फिलहाल 11 भाषाओं में काम करेगा जिसमें हिंदी और अंग्रेजी भी शामिल हैं। इसके अलावा आरोग्य सेतु ऐप यूजर को खुद को महामारी से बचाने के टिप्स भी देती है।

यह ऐप फोन के लोकेशन डाटा और ब्लूटूथ का उपयोग कर देखती है कि कहीं यूजर किसी कोरोना वायरस से संक्रमित व्यक्ति के संपर्क में तो नहीं आया है। इसे संक्रमितों का डाटाबेस के साथ जोड़ा गया है। यह ऐप लोकेशन डाटा के जरिये यूजर्स की लोकेशन की पता लगाती है और ब्लूटूथ कनेक्टिविटी की सहायता से यह देखा जाता है कि यूजर किसी संक्रमित व्यक्ति के छह फीट के दायरे में आया है या नहीं। यह यूजर को इसके आधार पर अगला कदम उठाने की सलाह देती है। यदि यूजर 'हाई रिस्क' एरिया में हैं तो ऐप उसको कोरोना वायरस टेस्ट कराने, हेल्पलाइन पर फोन करने और नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र पर जाने के लिए सलाह देती है।

आरोग्य सेतु ऐप में कई और फीचर भी दिए गए हैं। इसमें दिए गए चैटबॉच की सहायता से आप कोरोना वायरस के लक्षण को पहचान सकते हैं। यह ऐप हेल्थ मिनिस्ट्री के अपडेटस और भारत के हर राज्यों के कोरोना वायरस हेल्प लाइन नंबर की सूची भी देता है। इसके अतिरिक्त आरोग्य सेतु ऐप यूजर को खुद को महामारी से बचाने के टिप्स भी देती है। यदि कोई यूजर कोरोना वायरस से संक्रमित पाया जाता है तो यह उसका डाटा सरकार को भेज देती है।

यह भी पढ़े :

# प्रधानमंत्री मोदी द्वारा शुरू की गई 'मेरा जीवन मेरा योग' वीडियो ब्लॉगिंग प्रतियोगिता, मिलेगा 1 लाख रुपये का पुरुस्कार

# अर्जुन पुरस्कार के लिए BCCI द्वारा ईशांत शर्मा, शिखर धवन और दीप्ति शर्मा हुए नामांकित

# राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार 2020 के लिए BCCI ने रोहित शर्मा को किया नामांकित

# आखिर क्या हैं ‘ओपन स्काइज’ संधि जिससे अलग हुआ अमेरिका

# अर्जुन अवॉर्ड के लिए भेजा गया स्टार भारोत्तोलक मीराबाई चानू का नाम, जीत चुकी है खेल रत्न

Advertisement