career4education.com

Advertisement

  • ICC ने सुपर ओवर को लेकर किया बड़ा फैसला, बाउंड्री काउंट नियम किया गया समाप्त

ICC ने सुपर ओवर को लेकर किया बड़ा फैसला, बाउंड्री काउंट नियम किया गया समाप्त

By: C4E Team Fri, 18 Oct 2019 1:02 PM

ICC ने सुपर ओवर को लेकर किया बड़ा फैसला, बाउंड्री काउंट नियम किया गया समाप्त

अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (ICC) द्वारा समय-समय पर क्रिकेट से जुड़े नियमों पर विवेचना करते हुए फेरबदल किए जाते हैं। हाल ही में, ICC द्वारा सुपर ओवर को लेकर किया बड़ा फैसला किया गया जिसके अनुसार अब कोई मैच अगर टाई होता है तो उसका परिणाम सुपर ओवर (Super Over) के जरिए ही निकाला जायेगा और ये सुपर ओवर तब तक खेला जायेगा, जब तक कोई टीम दूसरे से ज्यादा रन नहीं बना लेती। इसी के साथ बड़ा फैसला लेते हुए सेमीफाइनल और फाइनल मैच के नतीजों को तय करने हेतु बाउंड्री काउंट (Bounfry Count) के नियम को समाप्त कर दिया है।

अब तक आईसीसी के नियम के अनुसार, यदि किसी नॉकआउट मैच (Knockout Match) में स्कोर टाई होने के बाद सुपर ओवर में भी दोनों टीमें बराबर स्कोर करती हैं तो फैसला ‘बाउंड्री काउंट’ नियम से होता था। इस नियम के तहत जिस भी टीम ने पूरे मैच में (सुपर ओवर मिलाकर) सबसे ज्यादा बाउंड्री स्कोर की होंगी, वे टीम विजेता घोषित होती थी।

18 october 2019 current affairs,current affairs,current affairs in hindi,icc,super over rule,boundary count rule,boundary count rule 2019,new zealand,england ,18 अक्टूबर 2019 करंट अफेयर्स, करंट अफेयर्स, करंट अफेयर्स हिंदी में, अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद, सुपर ओवर नियम, बाउंड्री काउंट नियम, विश्व कप फाइनल 2019, इंग्लैंड, न्यूजीलैंड

इस नियम की आलोचना हुआ विश्वकप 2019 के फाइनल मुकाबले में। इस मैच में पहले बल्लेबाजी करते हुए न्यूजीलैंड (New Zealand) ने 50 ओवरों में 241 रन बनाये थे। इंग्लैंड की पूरी टीम लक्ष्य का पीछा करते हुए अंतिम गेंद पर 241 रन पर ऑल आउट हो गई थी। मैच टाई रहा तथा फिर फैसला सुपर ओवर से हुआ। सुपर ओवर के नियम के अंतर्गत जिस टीम ने दूसरी पारी में बल्लेबाजी की, उसे ही पहले बल्लेबाजी करने का मौका मिलता है। दोनों टीमों ने सुपर ओवर में भी 15-15 रन बनाये और वो भी टाई रहा। इंग्लैंड (England) ने इस तरह मुख्य पारी और सुपर ओवर में लगाई गई ज्यादा बाउंड्री के आधार पर मैच जीतकर विश्व चैंपियन का खिताब अपने नाम कर लिया था। इंग्लैंड को विश्व कप फाइनल (World Cip Final) में न्यूजीलैंड के मुकाबले ज्यादा बाउंड्री लागने के कारण ‘विश्व विजेता’ बना दिया गया था। इस नियम की बहुत ज्यादा आलोचना हुई थी।

यह भी पढ़े :

# ICC ने किया जिम्बाब्वे और नेपाल की सदस्यता को बहाल, जुलाई 2019 में हुई थी निलंबित

Advertisement