career4education.com

Advertisement

  • लैंगिक समानता सूचकांक: 129 देशों की रैंकिंग में भारत को मिला 95वां स्थान

लैंगिक समानता सूचकांक: 129 देशों की रैंकिंग में भारत को मिला 95वां स्थान

By: C4E Team Thu, 06 June 2019 8:05 PM

लैंगिक समानता सूचकांक: 129 देशों की रैंकिंग में भारत को मिला 95वां स्थान

अक्सर देखा गया है कि एसएससी प्रतियोगी परीक्षाओं में अंतरराष्ट्रीय स्तर पर की गई विभिन्न देशों की श्रेणीवार जांच की रैंकिंग से जुड़े सवाल पूछे जाते हैं। ऐसे में आपको इसकी जानकारी होना बहुत जरूरी हैं। इसलिए आज हम आपको लैंगिक समानता सूचकांक से जुड़ी जानकारी देने जा रहे हैं जिसमें 129 देशों की रैंकिंग में भारत को 56.2 अंकों के साथ 95वां स्थान प्राप्त हुआ हैं। इसी के साथ ही विश्व आर्थिक मंच द्वारा भारत को 108वा स्थान मिला हैं।

- डेनमार्क 89.3 अंकों के साथ शीर्ष पर और चाड 33.4 अंक के साथ अंतिम पर रहा हैं।

- 56.2 अंकों के साथ नए एसडीजी (सस्टेनेबल डेवलपमेंट गोल्स) जेंडर इक्वेलिटी इंडेक्स (लैंगिक समानता सूचकांक) में भारत 129 देशों में 95 वें स्थान पर था। विश्व आर्थिक मंच के लिंग अंतर सूचकांक ने भारत को 108 वा स्थान दिया था।

6 june 2019 current affairs,current affairs,current affairs in hindi,gender equality index,india ranked 95th ,6 जून 2019 करंट अफेयर्स, करंट अफेयर्स, करंट अफेयर्स हिंदी में, लैंगिक समानता सूचकांक, भारत को 95वां स्थान

- सूचकांक में 17 एसडीजी में से 14 को शामिल किया गया था।

- देशों को 100 में से मिलने वाले अंक के आधार पर स्थान दिया गया था। 50 का स्कोर संकेत देता है कि एक देश ने एक लक्ष्य को लगभग आधा पूरा किया है।

- रैंकिंग में पाया गया कि देशों में रहने वाली 1.4 बिलियन लड़कियों और महिलाओं को 'बहुत ख़राब' ग्रेड मिला है। 129 देशों का वैश्विक औसत स्कोर, जो दुनिया की 95% लड़कियों और महिलाओं का प्रतिनिधित्व करता है, 100 में से 65.7 (सूचकांक में 'खराब') है।

- 2.8 अरब लड़कियां और महिलाएं ऐसे देशों में रहती हैं जो लैंगिक समानता पर 'बहुत खराब' (59 और नीचे) या 'खराब' स्कोर (60-69) प्राप्त करते हैं। दुनिया में लड़कियों और महिलाओं की आबादी का केवल 8% उन देशों में रहते हैं, जिन्होंने 'अच्छा' लिंग समानता स्कोर (80-89) प्राप्त किया और किसी भी देश ने 90 या उससे अधिक का 'उत्कृष्ट' समग्र स्कोर हासिल नहीं किया।

यह भी पढ़े :

# केंद्र सरकार द्वारा किया गया आठ कैबिनेट कमेटियों का गठन, अमित शाह सभी के सदस्य

# लुलु ग्रुप के अध्यक्ष एम.ए.युसुफ़ाली को जारी किया गया पहला यूएई स्थायी निवास गोल्डन कार्ड

Advertisement