career4education.com

Advertisement

  • संयुक्त राष्ट्र रिपोर्ट : भारत और चीन कर सकते हैं आर्थिक मंदी से अपना बचाव

संयुक्त राष्ट्र रिपोर्ट : भारत और चीन कर सकते हैं आर्थिक मंदी से अपना बचाव

By: C4E Team Wed, 01 Apr 2020 6:17 PM

संयुक्त राष्ट्र रिपोर्ट : भारत और चीन कर सकते हैं आर्थिक मंदी से अपना बचाव

कोरोना वायरस की वजह से कई विकासशील और बड़ों देशों की अर्थव्यवस्था हिल चुकी हैं। ऐसे में विभिन्न संस्थाओं द्वारा आने वाली रिपोर्ट आर्थिक मंदी की ओर इशारा कर रही है। हाल ही में संयुक्त राष्ट्र सम्मेलन (UNCTAD) द्वारा एक रिपोर्ट जारी की गई थी जिसके अनुसार विश्व की अर्थव्यवस्था इस बार मंदी के दौर से गुजरेगी और कई अरबों डॉलर का नुकसान होने की संभावना जताई जा रही हैं।

यह स्थिति विकासशील देशों के लिए गंभीर संकट पैदा करेगी लेकिन व्यापार और विकास पर संयुक्त राष्ट्र सम्मेलन (UNCTAD) की इस रिपोर्ट के अनुसार भारत और चीन पर इस वैश्विक आर्थिक मंदी का कोई खास असर नहीं पड़ेगा। संयुक्त राष्ट्र ने विकासशील देशों को सहायता प्रदान करने के लिए 2.5 ख़रब अमरीकी डॉलर के पैकेज की घोषणा की है और इन देशों में विश्व की जनसंख्या का लगभग एक तिहाई हिस्सा रहता है। कोविड -19 महामारी के कारण जिस तीव्र गति से विकासशील देशों में आर्थिक मादी आई है, वह वर्ष 2008 के वैश्विक वित्त संकट की तुलना में कहीं अधिक गंभीर है।

UNCTAD की रिपोर्ट में यह बताया गया है कि इस साल विश्व में आर्थिक मंदी का संकट आ सकता है जिसमें ख़रबों डॉलर का नुकसान हो जायेगा और इसका काफी गंभीर असर विकासशील देशों पर पड़ेगा। लेकिन भारत और चीन पर इसका काफी कम असर पड़ने की संभावना इस रिपोर्ट में जताई गई है। हालांकि, इस रिपोर्ट में भारत और चीन के इस आर्थिक मंदी से बच जाने का कोई स्पष्ट कारण नहीं बताया गया है।

यह भी पढ़े :

# प्रधानमंत्री मोदी द्वारा शुरू की गई 'मेरा जीवन मेरा योग' वीडियो ब्लॉगिंग प्रतियोगिता, मिलेगा 1 लाख रुपये का पुरुस्कार

# अर्जुन पुरस्कार के लिए BCCI द्वारा ईशांत शर्मा, शिखर धवन और दीप्ति शर्मा हुए नामांकित

# राजीव गांधी खेल रत्न पुरस्कार 2020 के लिए BCCI ने रोहित शर्मा को किया नामांकित

# आखिर क्या हैं ‘ओपन स्काइज’ संधि जिससे अलग हुआ अमेरिका

# अर्जुन अवॉर्ड के लिए भेजा गया स्टार भारोत्तोलक मीराबाई चानू का नाम, जीत चुकी है खेल रत्न

Advertisement